RCB से हर्षल को मिले 10.75: 4 साल से 20 लाख में बिक रहे थे, IPL में सबसे ज्यादा विकेट लिए तो पलटी किस्मत

IPL 2022 ऑक्शन में हर्षल पटेल को RCB ने 10.75 करोड़ रुपये देकर अपने साथ फिर से जोड़ा लिया है। इससे पहले RCB ने उन्हें रिटेन नहीं किया था, लेकिन अब 5 गुना रकम देकर फिर से उन्हें अपने साथ जोड़ा। पटेल 2021 में 32 विकेट लेकर IPL के एक सीजन में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले भारतीय गेंदबाज बने।

बेशक पटेल को 10 करोड़ रुपये IPLमें RCB ने खरीदा हो, लेकिन 4 साल पहले IPLमें उन्हें अपमान का घूंट पीना पड़ा था। 2018 IPL ऑक्शन के दौरान पटेल को खरीदने में किसी टीम ने दिलचस्पी नहीं दिखाई थी। आखिर में उन्हें दिल्ली कैपिटल्स ने जोड़ा था। वहीं IPL 2022 ऑक्शन के दौरान उन्हें अपने साथ जोड़ने के लिए 3 टीमों के बीच होड़ लगी रही। सबसे पहले RCB ने उन पर दांव लगाया। फिर चेन्नई सुपर किंग्स ने उन पर दांव लगाया।

ऐसे में 2 करोड़ बेस प्राइस से उनकी बोली तुरंत 4 करोड़ रुपये तक पहुंच गई, लेकिन जब RCB ने 4.40 करोड़ का दांव लगाया, तो CSKने अपने को अलग कर लिया। उसके बाद सनराइजर्स हैदराबाद ने उन्हें खरीदने के लिए बोली लगाना शुरू कर दिया और बेंगलुरु और हैदराबाद के बाद बोली लंबी चली और 10 करोड़ तक पहुंच गई और हैदराबाद पीछे हट गई और बेंगलुरु ने उन्हें 10.75 करोड़ में खरीद लिया।

2021 से पहले हर्षल का IPLमें नहीं रहा था अच्छा प्रदर्शन

हर्षल पटेल का 2021 से पहले IPLमें कोई खास प्रदर्शन नहीं रहा। 2021 में उन्होंने IPL में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु की ओर से 32 विकेट लिए थे। वहीं, 2018 में किसी टीम ने उन्हें खरीदने में दिलचस्पी नहीं दिखाई। आखिरकार दिल्ली कैपिटल्स ने उन्हें बेस प्राइज 20 लाख में अपने साथ जोड़ा। 2018 में उन्होंने 5 मैचों में 7 विकेट लिए।

AVvXsEjXAL ZELHs14oIQz2KRvJeVSrmZ52 kxVTgldnA1RJ7vLcYST6Ei4Pne6sqZKkBxtZa7jIe5gBZh6T377ujr35SBsIhmImeS7KDuf0k5VSXNftt fQxgJAXo1ktoatASP3YSGGXmghpO5UvdBqpjU1JuhIFJAteRcNz mRcyN BEWQA39nwfN1Bw5A=s320

2019 में वह 2 मैच ही खेल पाए। 2020 में 5 मैचों में केवल 3 विकेट मिले। 2020 में दिल्ली कैपिटल्स ने उन्हें रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु को स्थानांतरित कर दिया। अब तक उन्होंने IPLमें खेले 63 मैचों में 8.58 की इकोनॉमी रेट से 78 विकेट लिए हैं।

गुजरात से रणजी में जगह नहीं मिलने पर हरियाणा गए पटेल

गुजरात में जन्मे हर्षल पटेल 2010 में अंडर-19 वर्ल्ड कप भी खेल चुके हैं। 2009 में उन्हें गुजरात के लिए ए लिस्ट मैचों के लिए चुना गया। दो साल में ही उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया। उन्होंने 2011 में गुजरात छोड़ हरियाणा से खेलने का फैसला किया। तब से वह हरियाणा से घरेलू प्रतियोगिता में भाग ले रहे हैं। उनके माता-पिता विदेश में रहते हैं।

पटेल को हरियाणा क्रिकेट एसोसिएशन के उस समय प्रेसिडेट रहे अनिरुद्ध चौधरी उन्हें हरियाणा में लेकर आए थे। उन्होंने अंडर-19 में हर्षल को बॉलिंग करते हुए देखा था। हमें मीडियम पेसर की तलाश थी, तब पटेल को ट्रायल के लिए बुलाया गया। सभी कोच इससे प्रभावित थे। तब से वह हरियाणा से खेलते हैं और हरियाणा में ही रह कर अभ्यास करते हैं।

Related articles

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share article

spot_img

Latest articles

Newsletter

Subscribe to stay updated.